कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर नेपाल ने राजधानी काठमांडू और अन्य शहरों में 15 दिनों के लिए कर्फ्यू लागू कर दिया है। वर्तमान समय में नेपाल कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहा है। इसे देखते हुए प्रशासन ने ये फैसला लिया है। एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि काठमांडू के अलावा भक्तपुर और ललितपुर जिलों में गुरुवार की सुबह छह बजे से 12 मई की मध्य रात्रि तक कर्फ्यू जारी रहेगा।

काठमांडू में तीनों जिलों के प्रमुख जिला अधिकारियों की बैठक के बाद यह आदेश जारी किया गया। इसमें बताया गया कि केवल आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी और कर्फ्यू लागू रहने तक शेष सेवाएं बंद रहेंगी। कर्फ्यू के दौरान घाटी में वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित होगी। विज्ञप्ति में बताया गया कि खाद्य सामग्री सहित आवश्यक उत्पादों की आपूर्ति करने वाले बाजार सुबह में दस बजे तक और शाम में पांच बजे से सात बजे तक खुले रहेंगे।

भारतीय नागरिक नेपाल की यात्रा से बचें: भारतीय दूतावास

नेपाल में बुधवार को कोरोनावायरस के 4774 नए मामले सामने आए जिससे संक्रमितों की कुल संख्या 3,12,699 हो गई। देश में कोरोना वायरस से अब तक 3211 लोगों की मौत हुई है। दूसरी ओर, नेपाल में स्थित भारतीय दूतावास ने मंगलवार को अपने नागरिकों से कहा कि वे किसी तीसरे देश की यात्रा करने के लिए नेपाल की यात्रा करने से बचें। गौरतलब है कि इससे पहले नेपाली सरकार ने कहा था कि विदेशी नागरिक उनके देश का ट्रांजिट प्वाइंट के तौर पर इस्तेमाल ना करें। एक अधिसूचना जारी कर त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को ट्रांजिट प्वाइंट के रूप में इस्तेमाल करने पर प्रतिबंध लगाया।

15 करोड़ से ज्यादा लोग दुनियाभर में संक्रमित

गौरतलब है कि दुनियाभर के कई मुल्क कोरोना की दूसरी और तीसरी लहर का सामना कर रहे हैं। इस कारण कई मुल्कों में फिर से प्रतिबंधों को लागू किया जा रहा है। साथ ही वैक्सीनेशन की रफ्तार को बढ़ाने पर भी जोर दिया जा रहा है। वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, अभी तक दुनियाभर में 15,11,17,679 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, 31,79,187 लोगों ने कोरोना संक्रमण के चलते अपनी जान गंवाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here