विशेष संवाददाता 

नई दिल्ली । नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध करने वाली कांग्रेस क्या सिर्फ वोट बैक के लिए हडबोन्ग कर रही है? यह सवाल उठना इसलिए भी वाजिब है कि शुक्रवार को नानक देव की जन्म स्थली पाकिस्तान स्थित ननकाना ननकाना साहिब मे जिस तरह कट्टरपंथियों ने घटिया हरकत की उसको लेकर कांग्रेस के दो शीर्षस्थ नेता राहुल गांधी और नागरिकता कानून के विरोध मे सडक पर उतरी उनकी बहन प्रियंका वाड्रा ने चुप्पी साध ली। गोया कांग्रेस के लिए यह कोई मुद्दा ही नहीं है। 

आज मीडिया ने जब इस मामले पर प्रियंका से सवाल पूछे तब वो गोलमोल जवाब देकर आगे बढ गयी। उनको कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान के कोटा में सौ से ज्यादा बच्चों की अस्पताल मे हुई मौत का भी कोई गम नहीं । जबकि नागरिकता कानून के विरोध मे वाराणसी में गिरफ्तार आइसा दंपत्ति की डेढ साल की बच्ची पर यही प्रियंका आंसू बहाती नजर आयी थी।

क्या इन भाई बहनों को पता नहीं कि बीती रात ननकाना साहिब में क्या हुआ था ? नारे लग रहे थे इस शहर में एक भी सिख नहीं रहने देगे। शहर का नाम भी बदल कर गुलाम- ए- मुस्तफा हो और गुरुद्वारा तोड कर मस्जिद बने। लेकिन 1984 मे दिल्ली मे सिखों के हुए नरसंहार के लिए कथित जिम्मेदार पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के ये पुत्र और पुत्री के मुह से पाकिस्तान के खिलाफ एक शब्द भी नहीं निकला। हाँ कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने जरूर हल्की सी आलोचना करते हुए जरूर बयान दिया। 

  भाजपा ने कांग्रेस से पूछा सबूत काफी है या और चाहिए?

शायद इसी के चलते भारतीय जनता पार्टी (BJP) का शनिवार को इस मुद्दे पर निशाना साधना जायज लग रहा है। पाकिस्तान में गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर हमले के बाद बीजेपी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से पूछा है कि आपके लिए ये सबूत काफी है या और चाहिए? वहीं कांग्रेस ने ननकाना साहिब पर भीड़ द्वारा कथित पथराव एवं नारेबाजी की घटना के लिए वहां की सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए शनिवार को कहा कि इमरान खान की सरकार को इस पवित्र स्थल की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीटर पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि ‘ननकाना साहिब में एक भी सिख़ नहीं रहने देना …इस्लाम के नाम पे’ यह धमकी दी जा रही थी पाकिस्तान में हमारे सिख़ भाइयों को… इन कांग्रेसियों को “शोषित धार्मिक अल्पसंख्यक ” का और सबूत चाहिए? राहुल गांधी और प्रियंका गांधी आप के लिए ये सुबूत काफ़ी है या और चाहिए?
 

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान में ननकाना साहेब में सिखों पर हमला हुआ और यहां पाक का विरोध के बजाए जिनपे पाकिस्तान में अत्याचार हुए उनको वापिस लेने का विरोध हो रहा। कहां गए राहुल के पाक ब्रांड अम्बेसडर सिद्दू, टुकड़े-टुकड़े गैंग व विपक्ष, सब चुप। क्या मोदी इनका दर्द न सुनें, क्या इन्हें नागरिकता न मिले ?

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ”ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हुआ हमला मानवता के आदर्शों एवं धार्मिक मूल्यों को शर्मसार करने वाली घटना है। इस हमले के लिए सीधे तौर पर पाकिस्तान की सरकार जिम्मेदार है। इस घटना की हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं।” उन्होंने कहा, ”पाकिस्तान की सरकार ननकाना साहिब की सुरक्षा सुनिश्चित करे।” 

1814 COMMENTS

  1. [url=https://vardenafil360.com/]levitra 2.5mg cost[/url] [url=https://propranolol24h.com/]buy innopran xl[/url] [url=https://zoloftdep.com/]zoloft cost without insurance[/url] [url=https://paxilprx.com/]paxil without prescription[/url] [url=https://pharmowl.com/]feldene buy[/url]

  2. <