मिशन 2022 को धार देने के लिए काशी आए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और अन्य मंत्रियों पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय ने कहा है कि चुनाव नजदीक आते ही भाजपा के नेता सैर-सपाटे पर निकल पड़े हैं। कोई गोलगप्पे खा रहा है तो कोई पकौड़ी। महंगाई बढ़ती जा रही है इससे किसी को कोई लेना देना नही है। उन्होंने कहा है कि अब तो ठंडी बीत गई है। अब गैस के दाम क्यों बढ़ रहे हैं।

देश में भाजपा के 700 भव्य कार्यालयों की कड़ी में वाराणसी कार्यालय उद्घाटन पर कहा कि हाई-टेक और हाई-इन्वेस्टमेंट वाले ये पार्टी कार्यालय, जनता की त्रासदी रही नोट बंदी की असली उपलब्धियां हैं। सात सौ करोड़ के चर्चित केन्द्रीय भाजपा कार्यालय से लेकर, काशी सहित सात सौ नगरों में नोटबंदी के ही दौर में 700 भूखण्डों का क्रय और उन पर आलीशान पार्टी दफ्तरों का निर्माण हुआ है।
यह नोटबंदी एवं जीएसटी से कोविड तक मार सहने वाले आम आदमी के जले पर नमक के प्रतीक हैं। यह राजनीतिक जीवन के आदर्श उस गांधी की परम्परा का ही देश है, जिन्होंने एक धोती में तीन लोगों के जीने की हकीकत देखने के बाद पूरे वस्त्र पहनना छोड़ दिया था। जनता की सेवा का सच्चा दंभ रखने वाला कोई भी राजनीतिक दल भला आम जनजीवन के मुकाबले पार्टी दफ्तरों के ऐसे भव्य निर्माणों का संजाल कैसे बुन सकता है ?

आरोप लगाया कि यह विडम्बना ही है कि नोटबंदी से पेट्रो मूल्यों की लूट तक आम आदमी आहत है, तो इन निर्माणों पर दलीय नेतृत्व गौरव प्रकट करते हुये कहता है कि इससे कार्यकर्ताओं का विकास होगा। वहीं कांग्रेस की ओर से आगामी चुनावों की तैयारियों को लेकर भी पार्टी की ओर से सोमवार को रणनीति तैयार की गई। 

31 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here