उत्तर प्रदेश के शिकोहाबाद में पंजाब बैंक के मैनेजर ने ने अपने बेटे के साथ मिलकर पत्नी की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी। महिला बैंक मैनेजर की दूसरी पत्नी थी। उन्होंने दूसरे बेटे की हत्या का प्रयास भी किया, लेकिन वह किसी तरह से बचकर भाग गया। हत्या के बाद आरोपी फरार हो गए। सूचना पर पहुँची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए मेडिकल कॉलेज भेज दिया। 

शिकोहाबाद के रमेश नगर में आशाराम पंजाब बैंक फिरोजाबाद स्टेशन रोड पर शाखा प्रबंधक हैं। उनकी पहली शादी मुन्नी देवी से हुई थी। उससे तीन बच्चे सुमित, अमित, मुदित हुए। पहली पत्नी की 25 साल पहले मौत हो गई। इसके बाद उन्होंने दूसरी शादी विनीता से कर ली। उससे बेटा अंकित हुआ। वहीं शाखा प्रबंधक के बड़े बेटे अमित की 2018 में मौत हो गई। मुदित सैफई में अफसर है।

बैंक मैनेजर की दूसरी पत्नी के बेटे अंकित का आरोप है कि पिता व सुमित ने मेरी मां की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी। उसने बताया कि पिता सुमित की शादी बड़े बेटे की पत्नी रेनू से करना चाहते थे। इसी पर विवाद था। पिता व सौतेले भाई ने उसे भी मारने का प्रयास किया, लेकिन उसने दोनों को धक्का देकर जान बचाई।

सूचना मिलते ही एसएसपी अजय कुमार पांडेय, एसपी ग्रामीण राजेश कुमार, प्रभारी निरीक्षक सुनील कुमार तोमर मोके पर पहुँच गए। पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अंकित ने अपने पिता व भाई के खिलाफ थाना में तहरीर दी है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here