Lockdown लॉकडाउन के दौरान निजी कंपनियों के कर्मचारियों को पूरा वेतन देने के केंद्र सरकार के आदेश को Supreme Court सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। देश की शीर्ष अदालत में Ludhiana Hand Tools Association लुधियाना हैंड टूल्स एसोसिएशन ने याचिका दाखिल करते हुए कहा है कि disaster management act डिजास्टर मैनेजमेंट कानून के तहत केंद्र द्वारा निजी प्रतिष्ठानों को पूरा वेतन देने का आदेश जारी करना गलत है। इससे संविधान में मिले व्यवसाय करने व बराबरी के अधिकारों का हनन होता है। याचिका में कोर्ट से पूर्ण वेतन देने के केंद्र सरकार के गत 29 मार्च के आदेश को रद करने की मांग की गई है।

गौरतलब है कि पिछले हफ़्ते महाराष्ट्र की एक textile company टेक्सटाइल कंपनी ने भी ऐसी ही याचिका दाखिल की थी। हालांकि, महाराष्ट्र की trade union ट्रेड यूनियन ने भी टेक्सटाइल कंपनी की याचिका में हस्तक्षेप अर्जी दाखिल कर कहा है कि पूर्ण वेतन पाना कर्मचारियों का अधिकार है। वैसे, ये याचिकाएं अभी तक सुनवाई के लिए नहीं लगीं हैं। इसी बीच लुधियाना हैंड टूल्स एसोसिएशन की ओर से यह नई याचिका दाखिल हो गई है।

लुधियाना हैंड टूल्स एसोसिएशन की writ petition याचिका में कोर्ट से केंद्र का गत 29 मार्च का आदेश रद करने की मांग की गई है। इसके बाद 30 मार्च को श्रम एवं रोजगार मंत्रलय ने सभी regional labour commissioner क्षेत्रीय लेबर कमिश्नर को advisory एडवाइजरी जारी कर कहा कि लॉकडाउन से बंद हो गए प्रतिष्ठानों के सभी कर्मचारी इस दौरान ड्यूटी पर माने जाएंगे। सभी निजी व सरकारी प्रतिष्ठानों को सलाह दी जाती है कि वे कर्मचारियों को न तो नौकरी से निकालेंगे और न ही उनका वेतन काटेंगे। इतना ही नहीं इसमें अस्थायी और संविदा कर्मचारी भी शामिल माने गए।

याचिका में कहा गया है कि क्या डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 केंद्र को यह आदेश देने का अधिकार देता है कि वह निजी प्रतिष्ठानों को आपदा में कर्मियों को पूरा वेतन देने का आदेश दे। जबकि ऐसी ही स्थिति पर industrial dispute act 1948 इंडस्ट्रियल डिस्प्यूट एक्ट, 1948 में 50 फीसद वेतन देने का प्रावधान किया गया है। सवाल यह है क्या कर्मचारी वर्ग के हितों का ध्यान रखते हुए केंद्र सरकार सारा बोझ employer नियोक्ताओं पर डाल सकती है, जबकि नियोक्ता भी भारी नुकसान मे चल रहे हों।

2 COMMENTS

  1. What i don’t understood is in fact how you are no longer actually a lot more well-preferred than you might be right now. You’re very intelligent. You understand thus significantly when it comes to this topic, made me in my opinion consider it from a lot of various angles. Its like women and men don’t seem to be interested unless it’s something to do with Lady gaga! Your own stuffs outstanding. Always take care of it up!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here