टोक्यो पैरालंपिक में भारत के एथलीट निषाद कुमार ने देश को पुरुष हाई जंप में दूसरा मेडल दिला दिया है। निषाद ने 2.06 मीटर की ऊंची जंप लगाकर सिल्वर मेडल को अपने नाम किया। निषाद ने मेडल पर कब्जा करने के साथ ही नया एशियाई रिकॉर्ड भी कायम कर दिया है। इससे पहले सुबह टेबल टेनिस में भाविना पटेल ने भारत का पैरालंपिक 2020 में खाता खोला और सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया। हालांकि, उनको फाइनल मुकाबले में चीन की खिलाड़ी यिंग झोऊ के हाथों 0-3 से हार का सामना करना पड़ा और उनका गोल्ड मेडल जीतने का सपना अधूरा रह गया।

निषाद शुरुआत से ही बेहतरीन फॉर्म में नजर आए और उन्होंने पहले प्रयास में ही 2.02 मीटर की कूद को पार किया। इसके बाद भारत के इस पैरा एथलीट ने 2.06 मीटर की जंप को दूसरे प्रयास में पार करके नया एशियाई रिकॉर्ड स्थापित किया। निषाद हालांकि, 2.09 मीटर की जंप को तीनों ही कोशिश में पार करने में असफल रहे, जिसके चलते उनको गोल्ड मेडल जीतने का सपना अधूरा रह गया। निषाद उन खिलाडियों में से एक थे, जिनसे भारत को पैरालंपिक खेलों में मेडल की उम्मीद थी। पैरालंपिक 2020 में भारत ने नाम अब दो मेडल हो गए हैं और दोनों ही सिल्वर हैं।

सिल्वर मेडल जीतने पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के एथलीट निषाद को ट्वीट कर बधाई दी है। पीएम ने लिखा, ‘टोक्यो से और भी खुश करने वाली खबर। काफी प्रसन्न हूं कि निषाद ने पुरुष हाई जंप टी47 में सिल्वर मेडल अपने नाम किया है। वह एक लाजवाब एथलीट हैं और उनके पास कमाल की स्किल्स और लगन है। उनको बहुत बधाई हो।’ राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर देश को एक दिन में दो मेडल दिलाकर भारत के पैरा एथलीट्स ने लोगों को खुशी से झूमने का सुनहरा मौका प्रदान किया है।

गौरतलब है कि सुबह पीएम मोदी के जन्म स्थान बडनगर की भावना बेन पटेल ने टेबुल टेनिस मे भारत को पहला रजत पदक दिलाया था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here