टोक्यो पैरालंपिक में शूटिंग में गोल्ड मेडल जीतने वाली राजस्थान की गोल्डन गर्ल अवनी लेखरा को गहलोत सरकार तीन करोड़ का रुपये इनाम देगी. वहीं, भालाफेंक में सिल्वर पदक जीतने वाले वाले देवेन्द्र झाझड़िया को 2 करोड़ और ब्रॉज मेडल पदक विजेता सुंदर गुर्जर को 1 करोड़ रुपये की राशि इनाम स्वरूप प्रदान की जायेगी. तीनों खिलाड़ियों द्वारा तीन पदक जीतने के बाद सीएम गहलोत ने उनको बधाई देते हुए इसकी घोषणा की है. राजस्थान के खिलाड़ियों के द्वारा एक साथ तीन पदक जीतने की खुशी में प्रदेशभर में जश्न का माहौल है.

राजस्थान के खिलाड़ियों की इस उपलब्धि पर राज्य सरकार ने भी उनके लिये अपने खजाने का मुंह खोल दिया है. सीएम गहलोत ने ट्वीट कर तीनों खिलाड़ियों को इनाम राशि दिये जाने की जानकारी दी है. गहलोत ने कहा कि तीनों खिलाड़ियों को पहले से ही राज्य सरकार के वन विभाग में एसीएफ के पद पर नियुक्ति दी हुई है. खिलाड़ियों ने पदक जीतकर देश-प्रदेश का नाम रोशन किया है. हमें उन पर बेहद गर्व है.

उल्लेखनीय है कि जयपुर की अवनि ने पैरालंपिक में के क्वालीफिकेशन राउंड में 21 शूटर में सातवें स्थान पर रहकर फाइनल में अपनी एंट्री पक्की कर ली थी. आज अवनी ने 60 सीरीज के छह शॉट के बाद 621.7 का स्कोर बनाया. यह शीर्ष आठ निशानेबाजों में श्रेष्ठ था. इस इवेंट में अवनि को गोल्ड जीतकर देशवासियों का भी दिल जीत लिया. वहीं, जेवलिन थ्रो इवेंट में चूरू के देवेंद्र झाझड़िया ने 64.35 मीटर और सुंदर सिंह ने 64.01 मीटर दूर भाला फेंककर क्रमश: रजत और कांस्य पदक अपने नाम किये हैं. खिलाड़ियों की इस उपलब्धि के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी उनकी हौसला अफजाई करते हुए बधाई दी है. पैरालंपिक में इस बार भारतीय दल में राजस्थान के 6 खिलाड़ी शामिल हैं. खिलाड़ियों घरों और उनके शहरों में पटाखे छोड़े गये और लोगों ने जमकर जश्न मनाया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here