भारतीय महिला गोल्फर अदिति अशोक पर शायद अभी तक मीडिया का ज्यादा ध्यान नहीं जा रहा था। जबकि सच तो यह है टोक्यो ओलंपिक में यह स्टार गोल्फर इतिहास रचने की देहरी पर पंहुच चुकी है। अदिति ने अपने प्रदर्शन से किसी भारतीय के ओलंपिक की गोल्फ स्पर्धा में पहला पदक जीतने की आस जगा दी है।

अदिति महिलाओं के व्यक्तिगत स्ट्रोक प्ले के तीसरे दौर के बाद सिर्फ एक अंक से पीछे रह कर दूसरे स्थान पर चल रही हैं। अदिति के पास गोल्ड मेडल जीतने का सुनहरा मौका है। मौसम की भविष्यवाणी के अनुसार शनिवार (7 अगस्त) को भारी बारिश की संभावना है।

ऐसे में यदिचौथा और फाइनल राउंड नहीं होता है तो अदिति को सिल्वर मेडल यानी रजत पदक मिल सकता है। वहीं, अगर फाइनल राउंड पूरा होता है तो वह स्वर्ण पदक मेडल जीतने की प्रबल दावेदार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here