लखनऊ। प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री नन्‍द गोपाल गुप्‍ता ‘नन्‍दी’ ने कहा है कि राज्य के आठ नये एयरपोर्टों पर विकास कार्य अंतिम चरण में है। इसी साल इन सभी एयरपोर्टों से विमान सेवाएं शुरू हो जाएंगी। इसके साथ ही नागरिक उड्डयन निदेशालय परिसर में स्थित एयरोनॉटिकल ट्रेनिंग इंस्‍टीट्यूट द्वारा विमानन के क्षेत्र में कौशल विकास मिशन के तहत चार नये कोर्स जोड़े जाएंगे। नये एयरपोर्टों के शुरू होने से जहां लोगों को आवागमन में सुविधा होगी वहीं संबंधित क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर भी सृजित होंगे।

मार्च तक कुशीनगर एयरपोर्ट के उद्घाटन की तैयारी
 

मंत्री नंदी ने शुक्रवार को नागरिक उड्डयन विभाग के विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने बताया कि एयरोनॉटिकल ट्रेनिंग इंस्‍टीट्यूट द्वारा कौशल विकास मिशन के तहत एयरलाइन सिक्योरिटी एक्जीक्यूटिव, एयरलाइन केबिन क्रू, एयरलाइन रिजर्वेशन एजेंट तथा एयरलाइन कस्टमर सर्विस कोर्स को जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि कुशीनगर एयरपोर्ट का निर्माण कार्य करीब-करीब पूरा हो गया है। फरवरी-मार्च तक कुशीनगर एयरपोर्ट का उद्घाटन कर दिया जाएगा। इसके अलावा अलीगढ़, आजमगढ़, मुरादाबाद, श्रावस्ती, सोनभद्र, चित्रकूट तथा बरेली एयरपोर्ट से भी विमान सेवाएं इसी साल शुरू की जाएंगी। उन्होंने बताया कि इन सभी एयरपोर्टों के विकास का कार्य अंतिम चरण में है। बैठक के दौरान राज्य में बन रहे और प्रस्तावित अन्य एयरपोर्टों की समीक्षा भी की गई।

जेवर एयरपोर्ट से संबंधित दायित्यों का निर्वहन समय से करें

समीक्षा के दौरान मंत्री ने जेवर में बनने वाले अन्‍तर्राष्‍ट्रीय एयरपोर्ट के लिए स्‍टेट सपोर्ट एग्रीमेन्‍ट में राज्‍य सरकार के स्‍तर से किए जाने वाले कार्यों पर चर्चा की। अधिकारियों को निर्देश दिया कि समस्‍त दायित्‍वों का निवर्हन समय से किया जाए। अधिकारियों से कहा कि प्रशिक्षण संस्थानों में विमानन क्षेत्र के अन्‍य नए कोर्सेस को सम्मिलित करते हुए इसका विस्‍तार किया जाए। जिससे प्रदेश सरकार द्वारा विमानन क्षेत्र में दक्ष श्रम‍शक्ति उपलब्‍ध कराई जाए और प्रदेश के लोगों को रोजगार प्राप्‍त हो। 

गोरखपुर में बनेगा नया सिविल इंक्लेव

मंत्री नंदी ने बताया है कि प्रदेश सरकार ने एयर कनेक्टिविटी में जितना कार्य किया है, उतना पहले प्रदेश में कभी नहीं हुआ। प्रदेश के सभी क्षेत्रों को एयर कनेक्टिविटी से जोड़ा जा रहा है। निर्माणाधीन 12 नये एयरपोर्ट जल्द  बनकर तैयार होंगे। गोरखपुर एयरपोर्ट जहां से छह शहरों के लिए उड़ानें हैं, वहां एक नया सिविल इंक्लेव बनाने के लिए कार्यवाही शुरू की गई है। कानपुर में नये सिविल इंक्लेव के लिए राज्य सरकार ने लगभग 50 एकड़ भूमि क्रय करके निशुल्क एयरपोर्ट अथारिटी आफ इडिया को दे दी है। 

अयोध्या एयरपोर्ट के लिए 145 एकड़ भूमि खरीदी जा चुकी है

झांसी एयरपोर्ट का विकास बिड के अनुसार 19 सीटर वायुयानों के संचालन करने के लिए एएआई द्वारा प्री-फिजिबिलिटी स्टडी कराई गई है। ललितपुर एयरपोर्ट के लिए सर्वे का कार्य हो चुका है। अयोध्या एयरपोर्ट के लिए अब तक 145 एकड़ भूमि खरीदी जा चुकी है। कुशीनगर एयरपोर्ट अन्तर्राष्ट्रीय उड़ानों के लिए करीब करीब तैयार है।

जेवर एयरपोर्ट पर चार नहीं छह रनवे होंगे

मंत्री ने बताया कि जनपद गौतमबुद्धनगर के जेवर में नोएडा इन्टरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट का विकास राज्य सरकार द्वारा कराया जा रहा है। विकासकर्ता का चयन किया जा चुका है। सरकार द्वारा नोएडा इन्टरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट के रनवे की संख्या बढ़ाकर चार से छह किए जाने पर भी कार्य किया जा रहा है। इसके लिए फिजिबिलिटी स्टडी करा ली गई है।
 

1 COMMENT

  1. Good web site! I really love how it is easy on my eyes and the data are well written. I am wondering how I could be notified when a new post has been made. I’ve subscribed to your RSS which must do the trick! Have a great day!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here