नगर प्रतिनिधि

वाराणसी। देश जब आज कोरोना के संकट से जूझ रहा है तो काशी के कुछ लोग इंसानियत की सेवा के लिए जमीन पर उतर आए हैं। वाराणसी में राजस्थान ब्राह्मण मंडल के माध्‍यम से सैकड़ों लोग की भूख मिट रही है। संस्‍था के माध्‍यम से अब तक दो हजार लोगों तक भोजन पहुंच चुका है। 5 अप्रैल से लगातार सैकड़ों लोगों तक इस संस्‍था के माध्‍यम से हर दिन भोजन पहुंच रहा है।

राजस्थान ब्राह्मण मंडल के स्वयंसेवक लगातार नौवें दिन पूरी तन्मयता से कोरोना आपदा में ज़रूतमंद लोगों को स्वादिष्ट, स्वास्थ्यवर्धक भोजन पहुँचाने की व्यवस्था में लगे हुए हैं। सोमवार को भोजन में थोड़ा बदलाव करते हुए आलू कोहडा और टमाटर की सब्ज़ी के साथ पेट भरने लायक छह पूडी का पैकेट बनाकर जरूरतमंदों तक पहुंचाया गया।

संस्‍था के मंत्री वेदमूर्ति शास्त्री ने खास बातचीत में बताया, ”हमारा मकसद यही होता है कि गुणवत्‍ता वाला भोजन जरूरतमंद तक पहुंचें। इसलिए संस्‍था खाने की क्‍वॉलिटी से कोई समझौता नहीं करती है। वेदमूर्ति की यह बात खाने के मेन्‍यू से भी पता चलती है। हर दिन अलग अलग भोजन मंडल के मीरघाट स्थिति भवन में बनता है। कभी बूंदी के साथ पूड़ी कचौड़ी तो कभी इडली चटनी।

मंडल के मनोज पचलंगिया ने बताया कि सेवा में लगे सदस्यों ने तय किया कि रविवार को ज़रूरतमंदों को सुबह नाश्ता भी करवाएँगे। उसी क्रम में रविवार को सभी ने मिलकर लगभग 150 पैकेट इडली-चटनी तैयार की। 100 पैकेट खाद्य सुरक्षा अधिकारी को एवं 50 पैकेट अन्य ज़रूरतमदों को वितरित किया गया। हर पैकेट में छह पूडी, सब्‍जी और आचार रखा जा रहा है।

संस्‍था के विजय कृष्ण मिश्र ने बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिकारी रमेश सिंह के माध्‍यम से भोजन उन इलाकों में पहुंच रहा है, जहां इसकी सबसे ज्‍यादा जरूरत है।

मंडल के मंत्री वेदमूर्ति शास्त्री ने बताया कि पहले चरण में हमने अब तक दो हजार पैकेट का वितरण कर चुके हैं। मदद के कार्य को आशानुरूप अंजाम तक पहुंचाने के लिए मीरघाट स्थित मंडल के भवन को केंद्र बनाया गया है। जहां दो दर्जन से अधिक कार्यकर्ता दिन-रात काम कर रहे हैं। भोजन वितरण की व्यवस्था में जिस प्रकार से मंडल परिवार के नौजवानों का सेवा भाव एवं कर्तव्यनिष्ठा दिखाई दी हैं, वो अत्यंत सराहनीय एवं वन्दनीय हैं। भवन की सफ़ाई हो, बर्तन माँजना, आटा सानना, सब्ज़ी काटना, पूड़ी छानना, सब्ज़ी बनाना हर कार्य में पूरी निष्ठा से लगे हुए हैं।

उन्होने कहा कि भोजन बनाने में सामाजिक दूरी का कडाई से पालन किया जा रहा है। ताकि किसी भी तरह का संक्रमण पास फटक न सके।

5 अप्रैल से शुरू हुई कोरोना आपदा में ज़रूरतमंदों के लिए भोजन उपलब्‍ध करवाने में मंडल के सदस्‍य न सिर्फ आर्थिक सहयोग दे रहे हैं, बल्कि आटा, सब्‍जी से लेकर गैस सिलेंडर तक भी उपलब्‍ध करा रहे हैं। जो भी शख्‍स आर्थिक या सामग्री के रूप में मदद करना चाहता है, वह 9415623966 या फिर 9936188555 नंबर पर संपर्क कर सकता है।

विजय कृष्ण मिश्र के संयोजन में भोजन बनाने की व्यवस्था में रक्षा, मुन्नी देवी, ललिता देवी, सुनीता, मधु शर्मा, विजय लक्ष्‍मी, ज्‍योति, ममता, मनोज पंचलंगिया, विशाल गौड़, आशुतोष व्‍यास, संजय ढाँचोलिया, प्रेमकृष्ण मिश्र, कैलाश मिश्र, मुरारी लाल निर्मल, राजेश शर्मा (पिंटू), अभिषेक शर्मा(गुच्चू), निशान्त निर्मल अमित शर्मा(सोनू), संजीव शर्मा, रवि शर्मा, नन्दू शर्मा और विनय मिश्र पूरी निष्ठा और निस्वार्थ भाव से सेवा कार्य में लगे हुए हैं।

1 COMMENT

  1. Interesting blog! Is your theme custom made or did you download it from somewhere? A theme like yours with a few simple adjustements would really make my blog jump out. Please let me know where you got your design. Bless you

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here