कोरोना काल में नए साल पर होने वाली भीड़ को लेकर सार्वजनिक स्थलों पर विशेष सख्ती बरती जाएगी। दिल्ली की ऐतिहासिक स्मारकों में नए साल के मद्देनजर पर्यटकों की भीड़ को देखते हुए गुरुवार से टिकट काउंटर को खोला जाएगा। ऑनलाइन टिकट लेकर पहुंचने वालों के लिए अलग व्यवस्था होगी। कुछ स्मारकों में शुक्रवार को टिकट काउंटर खुलेंगे। नए साल पर लालकिला, कुतुबमीनार, जंतर-मंतर, पुराना किला, हुमायूं का मकबरा, सफदरजंग मकबरा जैसे प्रमुख पर्यटन स्थल खुले रहेंगे। कोरोना के दिशा-निर्देशों के अनुसार पर्यटकों को स्मारकों में प्रवेश दिया जाएगा।

चिड़ियाघर बंद रहेगा

चिड़ियाघर कोरोना के चलते 31 जनवरी तक बंद है। जब कभी चिड़ियाघर को खोला जाएगा तो ऑनलाइन टिकट केआधार पर पर्यटकों को प्रवेश मिलेगा। बता दें कि दिल्ली चिड़ियाघर मार्च महीने से बंद है। नए साल पर यहां भारी संख्या में लोग पहुंचते थे।

वहीं, मंदिरों और गुरुद्वारों में श्रद्धालुओं को सामाजिक दूरी के साथ प्रवेश मिलेगा। मंदिरों में प्रसाद और फूल चढ़ाने पर रोक रहेगी। श्रद्धालुओं की भीड़ को व्यवस्थित करने के लिए वालंटियर के तौर पर मेडिकल और इंजीनियर के छात्र भी मोर्चा संभालेंगे। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सलाहकार व गुरुद्वारा बंगला साहिब के चेयरमैन परमजीत सिंह चंडोक ने बताया कि नए साल को लेकर दिल्ली में स्थित अलग-अलग 10 गुरुद्वारों में कीर्तन दरबार सजेगा।

13 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here