ग्रेटर नोएडा में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। सेक्टर अल्फा दो में रहने वाले इंजीनियर ने अवैध संबंध के शक में गर्भवती पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद हत्यारोपी दो दिन तक पत्नी की लाश के पास रहा। बुधवार दोपहर उसने खुद कोतवाली पहुंचा और पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल किया। पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

ग्रेनो के एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि एटा का रहने वाला रजनीकांत दीक्षित अल्फा दो स्थित किराये के मकान में पत्नी खुशी दीक्षित 24 वर्ष निवासी हापुड़ के साथ रह रहा था। खुशी करीब आठ महीने की गर्भवती थी।

अवैध संबंध का शक
रजनीकांत नोएडा की कंपनी में इंजीनियर था। उसने बताया कि 21 फरवरी को उसने घर से हरियाणा के रहने वाले बल्लू नाम के युवक को बाहर निकलते देखा था। इसी बात को लेकर पति पत्नी के बीच विवाद हो गया। इसके चलते उसने अवैध संबंध के शक में 22 फरवरी की सुबह पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी।

खुद कोतवाली पहुंचा
हत्यारोपी रजनीकांत पत्नी खुशी की हत्या करने के बाद 2 दिन तक उसके शव के पास रहा। उसके बाद बुधवार को खुद बीटा 2 कोतवाली पहुंचा और पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल किया। पुलिस ने हिरासत में लेकर आरोपी से पूछताछ की तो उसने पूरा घटनाक्रम बताया। इसके बाद पुलिस उसके घर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

घर में शव छिपाने का प्रयास
हत्यारोपी ने पत्नी की हत्या करने के बाद उसके शव को घर में ही दफनाने का प्रयास किया। आरोपी ने घर में बने सीवर के मैनहाल को खोदकर शव को दबाने की कोशिश की, लेकिन वह शव को ठिकाने नहीं लगा सका।

पत्नी की बात चुभी
खुशी ने रजनीकांत को कहा कि जब तक मेरे बच्चा होगा तब तक में तेरे साथ रहूंगी। बच्चा होने के बाद में बल्लू हरियाणा के साथ रहूंगी। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ था। यह बात रजनीकांत को नागवार गुजरी और उसने अगले दिन उसकी हत्या कर दी।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here