बिहार के पूर्व कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने शुक्रवार को गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंचकर कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन को अपना समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि यह मुद्दा पूरे देश के करोड़ों किसानों से जुड़ा हुआ है। किसान आंदोलन कन्याकुमारी से लेकर बंगाल की खाड़ी तक चलना चाहिए। बिहार में जल्द इसकी शुरुआत होगी।

बिहार में लालू यादव के क्लासमेट रहे और जेपी आंदोलन को हवा देने वाले पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह ने कहा, कृषि कानून किसान विरोधी है। किसान अपने हक के लिए दिल्ली के बॉर्डरों पर आठ महीने से बैठे हैं। केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस सरकार को करोड़ों किसानों की कोई चिंता नहीं है। यह आंदोलन अब और मजबूत होगा। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान से निकलकर यह आंदोलन अब पूरे देश में फैलेगा। बंगाल के किसान भी इस आंदोलन को अपना समर्थन दे चुके हैं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here