विकास द्विवेदी

सोनभद्र । रावर्ट्सगंज प्रभारी निरीक्षक की तहरीर पर गैर जनपद ट्रांसफर के बाद भी पुलिस कर्मियों द्वारा सरकारी कब्जे का गंभीर आरोप लगाया गया है।

लंबे समय से सरकारी आवास में कब्जा जमाए लोगों में इससे हड़कंप मच गया। जिले में पहली बार पुलिस विभाग की ओर से बड़ी कार्रवाई अमल में लाये जाने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।

गौरतलब है कि राबर्ट्सगंज कोतवाली परिसर, चौकी कस्बा व पुलिस लाइन में बने सरकारी आवास में पुलिस विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों द्वारा गैर जनपद स्थानांतरण के बाद भी अनाधिकृत रूप से कब्जा करने के मामले में एक निरीक्षक, दो उप निरीक्षक समेत 8 पुलिसकर्मियों के खिलाफ सार्वजनिक सम्पत्ति नुकसान निवारण अधिनियम के तहत रावर्ट्सगंज कोतवाली में मामला पंजीकृत कर लिया गया।

रावर्ट्सगंज कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मिथिलेश मिश्रा ने बताया कि उक्त पुलिसकर्मियों द्वारा गैर जनपद स्थानांतरण पर चले जाने के बाद भी अनाधिकृत रूप से कब्जा किये हुए है। जिन्हें सरकारी आवास खाली कराने के लिये बार बार निर्देशित किया गया था तथा नोटिस दिया गया था परंतु आज तक सरकारी आवास खाली नही किये गए। अनाधिकृत रूप से कब्जा किये जाने से राजकीय संपत्ति का नुकसान हो रहा था। उक्त पुलिसकर्मियों द्वारा अनाधिकृत रूप से कब्जा किया जाना आपराधिक प्रवृति का पाया जा रहा है। कोतवाल की तहरीर पर निरीक्षक सुभाष यादव, उप निरीक्षक रामजीत राम, उप निरीक्षक राम कुमार राम, महिला हेड कांस्टेबल उषा किरन श्रीवास्तव, हेड कांस्टेबल वंशराज दूबे, हेड कांस्टेबल वीर बहादुर राम, हेड कांस्टेबल संतोष कुमार, कांस्टेबल संतोष कुमार साहनी पर मुकदमा दर्ज किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here