दिल्ली में बीते कई दिनों से हो रही पक्षियों की मौत के बाद बर्ड फ्लू की आशंका को देखते हुए दिल्ली सरकार ने पूर्वी दिल्ली स्थित गाजीपुर मुर्गा मंडी को दस दिन के लिए पूरी तरह से बंद कर दिया है। इसके साथ ही सरकार ने जिंदा पक्षियों के आयात पर भी रोक लगा दी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह घोषणा की है। 

केजरीवाल ने कहा कि हमने जालंधर की एक लैब में अभी तक 104 से अधिक सैंपल जांच के लिए भेजे हैं, लेकिन एक भी कन्फर्म केस सामने नहीं आया है। सोमवार के बाद से रिपोर्ट आएगी, अगर कोई केस आता है तो सभी जरूरी कदम उठाएं जाएंगे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों से पक्षियों के मरने की खबरें आ रही हैं, उन पर उसी जिले की रैपिड रिस्पॉन्स टीम उचित कार्रवाई कर रही है। दिल्ली में आज से लाइव बर्ड के आयात पर पूरी तरह बैन लगाया जाता है। इसके साथ ही गाजीपुर पोल्ट्री मार्केट को आज से 10 दिनों के लिए बंद किया जाता है। दिल्ली सरकार राजधानी में बर्ड फ्लू के प्रसार को रोकने के लिए सभी उपाय कर रही है।

केजरीवाल ने कहा कि हमने दिल्ली के सभी जिलों के डीएम को दिशानिर्देश जारी किए हैं। हमने बर्ड फ्लू के लिए एक इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर-23890318 भी जारी किया है। 

दिल्ली की संजय झील में 10 बत्तक मृत मिले 

पूर्वी दिल्ली की संजय झील में शनिवार को 10 बत्तक मरे हुए पाए गए। इससे एक दिन पहले मयूर विहार फेस-3 में 17 कौवे मृत मिले थे। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि कि झील को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है।

पशुपालन विभाग के डॉक्टर राकेश सिंह ने बताया कि हमें संजय झील में 10 बत्तक मृत मिले हैं, जिनके नमूनों को जांच के लिए लैब भेज दिया गया है। सिंह ने इससे पहले कहा था कि हमें द्वारका, मयूर विहार फेस-3 और हस्तसाल विलेज में कौवों के मरने की खबर मिली थी। हालांकि अभी यह पता लगाया जा रहा है कि उनके मरने का कारण बर्ड फ्लू था या कुछ और।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here