कोराना वायरस के महाराष्ट्र में पांव पसारने के ख़ौफ़ से अब यह लगभग तय माना जा रहा है कि इस बार मुंबई में आईपीएल के मैच बिना दर्शकों के ख़ाली स्टेडियम में खेले जायेंगे।

महाराष्ट्र कैबिनेट ने आगामी इंडियन प्रीमियर लीग के मैचों के लिए मंजूरी तो दे दी है, लेकिन बिना दर्शकों के। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कैबिनेट ने फैसला किया है कि मुंबई में आईपीएल के मैच बिना दर्शकों के होंगे। इस प्रस्ताव पर बुधवार को राज्य कैबिनेट की मीटिंग में चर्चा हुई। उम्मीद है कि सरकार जल्द ही इसको लेकर विधानसभा में बयान जारी करेगी। आईपीएल के 13वें सीजन का आगाज 29 मार्च से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में होगा। ओपनिंग मैच मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा। 

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस कोविड-19 के 5 मामलों की मंगलवार को पुष्टि हुई है। यह पांचों मामले पुणे के हैं। राज्य में अब तक कुल 18 लोगों को निगरानी के लिए अलग थलग ( quarantine ) किया गया है जिनमें 15 पुणे और 3 मुंबई के हैं। इस आशय की रिपोर्ट मिलने के बाद ही राज्य सरकार ने आईपीएल मैचों के आयोजन को लेकर चर्चा की। महाराष्ट्र के वरिष्ठ मंत्री ने कहा, ”हम कोरोनो वायरस के मद्देनजर सभी तरह की सावधानियां बरतना चाहते हैं। हमने फैसला किया है कि राज्य में अब से कभी भी बड़ी संख्या में लोगों को एकत्र होने की इजाजत नहीं होगी। इसके साथ ही हमारी लोगों से अपील है कि वह भी किसी भीड़ वाली जगह पर एकत्र होने से बचें। कैबिनेट मीटिंग में आईपीएल पर चर्चा हुई और साथ ही फैसल लिया गया कि आईपीएल टूर्नामेंट को तभी इजाजत मिलेगी, जब दर्शकों को टिकट नहीं बेची जाएंगी।”

एक अन्य मंत्री ने कहा, ”राज्य सरकार को बताया गया था कि बीसीसीआई को इसमें कोई परेशानी नहीं होगी अगर आईपीएल मैचों की टिकट ना बेची जाएं तो। आईपीएल की कमाई ज्यादातर दूसरे सोर्स जैसे टेलीविजन पर लाइव टेलीकास्ट, वेबसाइट और विज्ञापन के जरिए होती है, जो इस साल मदद करेंगी। उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने इस बारे में स्टेट कैबिनटे को जानकारी दी, जिसके बाद यह फैसला लिया गया।”

गौरतलब है कि इससे पहले महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने एक बयान में कहा था कि देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन बाद में किया जाएगा। 

टोपे ने कहा था, “जब बड़ी संख्या में लोग एक जगह जमा होते हैं तो संक्रामक बीमारियों के तेजी से फैलने की आशंका रहती है। ऐसे (आईपीएल) आयोजनों के लिए यह सही समय नहीं है। इसे बाद में आयोजित किया जाना चाहिए।”

इससे पहले बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि आईपीएल का आयोजन तय तारीख पर होगा और कोरोना वायरस से निबटने के लिए हर सम्भव कदम उठाए जाएंगे। गांगुली ने इस संबंध में पूछे गए सवाल पर साफ कर दिया कि आईपीएल ‘ऑन’ है और बोर्ड टूर्नामेंट के सुचारू आयोजन को लेकर हर जरूरी कदम उठाने को तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here