वाराणसी। श्री काशी वि‍श्‍वनाथ धाम का टेंडर फाइनल हो चुका है। पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट के निर्माण के लिए कंपनी का चयन शुक्रवार को हो गया। फ़ाइनैंशल बिड खुलने पर उम्मीद के मुताबिक अहमदाबाद की कंपनी पीएसपी इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को निर्माण कार्य का जिम्मा मि‍ला। प्रमुख प्रति‍द्वंदी टाटा (दिल्‍ली) की शापुरजी पल्‍लोन जी कंपनी रही, जि‍सके मुकाबले पीएसपी इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर की कम कीमत कम रही।

15 जनवरी के बाद शुरू होगा निर्माण कार्य,18 महीने में पूरा करना होगा

विश्‍वनाथ धाम निर्माण खंड के मुख्‍य अभियंता जीपी पांडेय के अनुसार फाइनेंशियल बिड खुलने पर अहमदाबाद की पीएसपी का 339 करोड़ तथा शापुरजी का 422 करोड़ का एस्‍टीमेट था। लागत कम होने के कारण पीएसपी को चयनित किया गया है। कंपनी के साथ एग्रीमेंट की प्रक्रिया अधि‍कतम दिन में पूरी कर ली जाएगी। नए साल में खरमास यानी 15 जनवरी के बाद यहां कार्य शुरू हो जाएगा। मुख्‍य अभि‍यंता के अनुसार अगर सब कुछ सही गति‍ से चला तो 18 महीने में यहां भव्‍य श्रीकाशी वि‍श्‍वनाथ धाम आकार ले लेगा।

धाम में 21 भवन के अलावा अपना पावर हाउस होगा, 30 मंदिर संरक्षित

धाम में कुल मिला कर 21 भवन, 25 एमएलडी सीवर और 33 एमबी के पावर हाउस का निर्माण होना है। इसके अलावा एक अलग समिति बनाकर 30 मन्दिर अलग से सरंक्षित किये जायेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here