उत्तर प्रदेश में कोविड-19 की संक्रमण दर में गिरावट आने के बावजूद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वैश्विक महामारी के प्रति सजगता बरतने की सलाह दी है और वैक्सीनेशन अभियान को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने कहा कि कोरोना पर अन्तिम प्रहार करने के लिए वैक्सीनेशन का यह अभियान प्रारम्भ किया गया है। उन्होंने कोविड-19 से बचाव और उपचार की प्रभावी व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने शनिवार कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में यह सुनिश्चित किया जाए कि लाभार्थी को वैक्सीनेशन की निर्धारित तिथि से दो दिन पूर्व मैसेज भेजते हुए वैक्सीनेशन के स्थान और समय की जानकारी उपलब्ध कराई जाए। इस काम में जिलों में संचालित इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर की भी मदद ली जाए। उन्होंने कोरोना फ्रंटलाइन वर्कर्स के टीकाकरण कार्य को तेजी प्रदान करने के निर्देश भी दिए हैं।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 की संक्रमण दर में उल्लेखनीय गिरावट आने के बावजूद अभी कोरोना संक्रमण समाप्त नहीं हुआ है। इसे ध्यान में रखकर प्रत्येक स्तर पर सावधानी बरतना आवश्यक है। कोविड-19 के संक्रमण की चेन को तोड़ने में टेस्टिंग कार्य की महत्वपूर्ण भूमिका का उल्लेख करते हुए उन्होंने प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी कोविड चिकित्सालयों में उपचार व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त रखा जाए। कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का कार्य पूरी सक्रियता से संचालित किया जाए। लोगों को कोविड-19 से बचाव के बारे में जागरूक किया जाए। इस कार्य में विभिन्न प्रचार माध्यमों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का भी उपयोग किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here