मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का यूपी में फिल्म सिटी निर्माण पर चर्चा करने के लिए मुंबई में बालीवुड के नामचीन 41 हस्तियों से मुलाकात करने वाले हैं। मंगलवार को सीएम योगी मुंबई पहुंचेे। यहां बॉलीवुड स्टार अक्षक कुमार और सिंगल कैलाश खेर ने उनसे मुलाकात की।

मुख्यमंत्री नोएडा के यमुना प्राधिकरण के सेक्टर 21 में 1,000 एकड़ में बनने वाली इन्फोटेनमेंट सिटी को लेकर कई बैठकें पहले ही कर चुके हैं। 22 सितंबर को लखनऊ में हुई बैठक में उन्होंने फिल्म उद्योग के प्रतिनिधियों से फिल्म सिटी के लिए सुझाव मांगे थे, जिस पर फिल्म जगत के दिग्गजों ने यमुना प्राधिकरण को अपने सुझाव उपलब्ध कराए थे। इसके अलावा सीएम योगी से उन्होंने फिल्म निर्माण के प्री प्रोडक्शन, प्रोडक्शन और पोस्ट प्रोडक्शन की सुविधाएं एक जगह पर उपलब्ध कराने, क्लब, स्पोर्ट्स, विलेज, टेलीपोर्ट, कामर्शियल, आंतरिक और बाहरी लोकेशन आदि की सुविधाएं विकसित करने का आग्रह किया था। साथ ही उन्होंने साउंड मिक्सिंग स्टूडियो, विशेष प्रभाव, कलर ट्रांसफार्मेशन, वीडियो एडीटिंग की सुविधा भी मांगी थी। फिल्म स्टूडियो इस तरह बनाने का सुझाव दिया था कि वहां बाहरी हिस्सा आलीशान इमारत की तरह लगे, ताकि शूटिंग हो सके और जरूरत के हिसाब से उसमें बदलाव हो सके। 

बालीवुड की हस्तियों की ओर से दिए गए सुझावों के आधार पर कार्य शुरू हो गया है। इसके लिए सरकार की ओर से इन्फोटेनमेंट सिटी की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करने के लिए ‘अर्नेस्ट ऐंड यंग’ को सलाहकार एजेंसी के रूप में चयनित किया गया है। यह एजेंसी फिल्मकारों के प्रस्ताव और प्रदेश सरकार की फिल्म नीति को ध्यान में रखते हुए डीपीआर तैयार कर रही है। उम्मीद है कि जल्द ही डीपीआर तैयार हो जाएगी और इसके बाद धरातल पर कार्य शुरू होगा। 

सीएम से होगी निवेश प्रस्तावों पर चर्चा

सीएम योगी से मुंबई में बालीवुड की हस्तियों से होने वाली मुलाकात में यूपी में बनने वाली फिल्म सिटी को लेकर चर्चा होगी। इस दौरान फिल्म सिटी में निवेश के कई प्रस्ताव भी आने की संभावना जताई जा रही है और उम्मीद जताई जा रही है कि इस दौरान सीएम बालीवुड के दिग्गजों से निवेश प्रस्तावों पर भी चर्चा करेंगे। सीएम योगी आज शाम मुंबई पहुंच जाएंगे और उनकी एक दिसंबर की रात मशहूर फिल्म स्टार अक्षय कुमार से भी मुलाकात होगी। इसके बाद मुख्यमंत्री बालीवुड की नामचीन हस्तियों से 2 दिसंबर की सुबह साढ़े 10 से ढाई बजे तक करीब चार घंटे मुलाकात करेंगे। इस दौरान सीएम से उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के चेयरमैन राजू श्रीवास्तव, गोरखपुर के सांसद और मशहूर कलाकार रवि किशन, फिल्म निर्माता राहुल मित्रा दिनेश यादव ‘निरहुआ’, बालीवुड स्टार रणदीप हुड्डा, अर्जुन रामपाल और सतीश कौशिक भी मुलाकात करेंगे। साथ ही फिल्म प्रोड्यूसर बोनी कपूर, ऐड लैब्स प्राईवेट लिमिटेड के संस्थापक मनमोहन शेट्टी, प्रोड्यूसर आनंद पंडित, डायरेक्टर सुभाष घई, मधुर भंडारकर, प्रोड्यूसर अजय राय, टी सीरीज के चेयरमैन भूषण कुमार, लाईका प्रोडक्शंस के सीईओ आशीष सिंह, जी स्टूडियोज एक्विजिशन हेड जतिन सेठी, सीईओ शारिक पटेल, वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स के रुद्ररूप दत्ता, प्रोड्यूसर राजीव मलहोत्रा, लेखक निर्देशक नीरज पाठक, निर्देशक उमेश शुक्ला, निर्देशक तिगमांशु धुलिया, निर्देशक और सिनेमेटोग्राफर बाबा आजमी, निर्देशक अनिल शर्मा, फिल्म प्रोड्यूसर निखिल आडवानी, लेखक जुही चतुर्वेदी, फिल्म प्रोड्यूसर पूनम शिवदासनी, प्रोड्यूसर मधु भोजवानी, कार्निवाल ग्रुप के चेयरमैन डॉ. श्रीकांत भसी और वैशाली सर्वांकर, निर्देशक हनी त्रेहन, 

  डब्ल्यूआईएफपीए के अध्यक्ष संग्राम शिरके, ट्रेड एनालिस्ट कोमल नहाटा, फिल्म मेकर्स कंबाइन के महामंत्री धरम मेहरा, प्रोड्यूसर गिल्ड के सीईओ नितिन तेज आहुजा, प्रोड्यूसर पहलाज निहलानी, विक्रम खाखर, निर्देशक दीपक तिजोरी, परावल रमन और आदि भी सीएम से मुलाकात करेंगे। 

38 फिल्मों को 21 करोड़ का अनुदान दिया
यूपी में फिल्म सिटी निर्माण को लेकर काफी तेजी से तैयारियां की जा रही हैं। इसके लिए सरकार की ओर से फिल्म निर्माण पर तमाम सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जा रही हैं। पिछले तीन वर्षों में करीब 38 से अधिक फिल्मों को सब्सिडी दी गई है। प्रदेश में फिल्म निर्माण पर हर साल 150 से 200 करोड़ दिए जा रहे हैं। फिलहाल, प्रदेश में डेढ़ करोड़ से लेकर 50 करोड़ की लागत से बनने वाली कई फिल्मों का निर्माण हो रहा है। योगी सरकार में 2017 से लेकर अब तक 38 फिल्मों को लगभग 21 करोड़ रुपये का अनुदान दिया गया है। ‘रेड’ और ‘आर्टिकल 15’ जैसी चर्चित फिल्मों को भी यूपी सरकार से सब्सिडी मिली है। 

22 और फिल्मों की स्क्रिप्ट को दी मंजूरी
यूपी सरकार की ओर से हाल ही में 22 फिल्मों की स्क्रिप्ट को यूपी की फिल्म बंधु कमेटी ने मंजूरी दी है। इसके आलावा अन्य 20 स्क्रिप्ट जिन्हें मंजूरी मिली हैं, वे क्षेत्रीय फिल्में हैं। यूपी सरकार ने स्वरा भास्कर-स्टारर फिल्म ‘निल बट्टे सन्नाटा’ के लिए 65 लाख और नवाजुद्दीन सिद्दीकी अभिनीत बाबू मोशाय बंदूकबाज के लिए 60 लाख रुपए जारी किए हैं।

यूपी में फिल्म बनाने के यह हैं लाभ
नई फिल्म नीति के तहत राज्य में फिल्माई गई फिल्मों को सरकार दो करोड़ रुपए तक की वित्तीय सहायता देती है। प्रदेश में बनने वाली हिंदी या अन्य भारतीय भाषाओं की फिल्मों को लागत का 25 प्रतिशत या अधिकतम दो करोड़ और क्षेत्रीय भाषाओं में बनने वाली फिल्मों के लिए 50 प्रतिशत अनुदान का प्रावधान है। फिल्म में अगर प्रदेश के पांच कलाकार हैं, तो 25 लाख अतिरिक्त और सभी कलाकार प्रदेश के हैं, तो 50 लाख अतिरिक्त देने का प्रावधान है। पर्यटन विभाग के होटलों और अन्य संपत्तियों में 25 प्रतिशत छूट की व्यवस्था है।

35 COMMENTS

  1. you are really a good webmaster. The website loading speed is amazing. It seems that you are doing any unique trick. Moreover, The contents are masterpiece. you have done a great job on this topic!

  2. It?¦s actually a great and helpful piece of info. I?¦m satisfied that you just shared this helpful information with us. Please stay us up to date like this. Thanks for sharing.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here