मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में शनिवार से शुरू हो रहा वैक्सीनेशन अभियान प्रदेश व देश को एक नई दिशा देगा। उन्होंने कहा कि कोरोना की चेन को तोड़ने तथा इसे नियंत्रित करने में वैक्सीनेशन अभियान से सफलता मिलेगी। केन्द्र सरकार की गाइडलाइंस के हिसाब से प्राथमिकता के क्रम से सभी लोगों तक कोविड वैक्सीन पहुंचेगी। मुख्यमंत्री स्वयं वैक्सीनेशन कार्य का निरीक्षण करने किसी केंद्र का दौरा कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री शुक्रवार को अपने आवास पर सम्पादकों के साथ वार्ता कर रहे थे। उन्होंने मकर संक्रांति की बधाई व शुभकामनाएं देते हुए कहा कि कोविड नियंत्रण की दिशा में 16 जनवरी से नया अध्याय प्रारम्भ हो रहा है। उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में प्रदेश में निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार व्यवस्थाएं की जा रही हैं। कोविड वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की अफवाह अथवा भ्रम की स्थिति को दूर करने में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण है। मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के दौरान मीडिया द्वारा की गई रिपोर्टिंग और सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वांचल में इंसेफेलाइटिस के नियंत्रण के लिए किए गए कार्यों और व्यवस्थाओं के अनुभव का लाभ कोविड प्रबन्धन में भी मिला। अंतर्विभागीय समन्वय के आधार पर जिस प्रकार जेई/एईएस से हुई मृत्यु के आंकड़ों में 95 प्रतिशत की कमी आयी, उसी प्रकार कोविड-19 को भी नियंत्रित किया गया।

कोविड काल के अनुभवों को साझा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि तकनीक ने भी कोविड प्रबन्धन और नियंत्रण में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। उन्होंने कहा कि कोविड जैसी वैश्विक महामारी के दौरान जनता को व्यापक पैमाने पर केन्द्र व राज्य सरकार की योजनाओं व कार्यक्रमों से लाभान्वित कराया गया। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन कार्य में केन्द्र सरकार द्वारा निर्धारित किए गए क्रम का प्रत्येक दशा में पूरी तरह पालन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here