टीम इंडिया के पांच खिलाड़ियों को क्वारंटाइन किए जाने और जैव सुरक्षा प्रोटोकॉल को लेकर छिड़ा विवाद अब तूल पकड़ता नजर आ रहा है। बीसीसीआई ने साफ किया है कि वह अपने खिलाड़ियों का पूरा समर्थन करेगा और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर मेलबर्न में मिली हार के बाद साजिश करने का आरोप लगाया है। रोहित शर्मा समेत पांच प्लेयरों को आइसोलेशन में रखा गया है और यह जांच की जा रही है कि उन्होंने बायो बबल प्रोटोकॉल का उल्लंघन तो नहीं किया है। इससे पहले एक फैन्स ने ट्विटर पर वीडियो डाली थी जिसमें ये पांचों एक इनडोर रेस्तरां में खाना खा रहे थे। उस व्यक्ति ने यह भी दावा कि उसने पंत को गले लगाया लेकिन बाद में यह ट्वीट हटा लिया।

पीटीआई के साथ बातचीत करते हुए बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘खिलाड़ी हल्की बारिश की वजह से रेस्तरां के बाहर खड़े थे, फिर वह अंदर चले गए। अगर यह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का तरीका है भारत की टीम को परेशान करने का तो यह काफी बुरी बात है। सबसे पहले उनको प्रैक्टिस करने की इजाजत है। दूसरी, मुझे नहीं लगता है कि यह इतनी बड़ी बात हुई है, जिसका विपरीत असर पड़ना चाहिए। नहीं, किसी भी तरह से बायो बबल प्रोटोकॉल को नहीं तोड़ा गया है। हर कोई जो टीम इंडिया के साथ जुड़ा है, वह प्रोटोकॉल को जानता है। हम यही कह सकते हैं कि यह ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की घिनोनी चाल है भारत के हाथों मिली बुरी हार के बाद।’

अगले कुछ दिन टीम इंडिया के लिए अहम होने वाले हैं, क्योंकि टीम को सिडनी के लिए रवाना होना है। यह पांच खिलाड़ी तीसरे टेस्ट के लिए उपलब्ध होंगे या नहीं यह अगले 72 घंटों के अंदर पता चल सकता है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया वीडियो की जांच कर रही है। गौरतलब है कि रोहित शर्मा ने ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद हाल में ही 29 दिसंबर को अपना 14 दिन का क्वारंटाइन पीरियड पूरा किया है। हेमस्ट्रिंग की इंजरी से उबरने के बाद एनसीए में रोहित ने अपना फिटनेस टेस्ट पास किया था। बॉक्सिंग-डे टेस्ट मैच में भारत की टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया था और सीरीज को 1-1 से बराबर किया था। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here