नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश करते हुए कई घोषणाएं की। उन्होंने अपने बजट भाषण में रेलवे के लिए विशेष पैकेज की घोषणा की। उन्होंने अपने बजट भाषण में कहा कि रेलवे के लिए रिकॉर्ड 1,10,055 करोड़ रुपये प्रदान किए गए हैं। इनमें से 2021-22 में पूंजीगत व्यय के लिए 1,07,100 करोड़ रुपये हैं।

वित्त मंत्री ने कहा कि दिसंबर 2023 तक ब्रॉड गेज रेल पटरियों का विद्युतीकरण का काम पूरा हो जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा, ‘भारतीय रेलवे ने 2030 में भारत के लिए एक राष्ट्रीय रेल योजना तैयार की है। यह योजना 2030 तक भविष्य के लिए तैयार रेलवे प्रणाली बनाने की है। मेक इन इंडिया को सक्षम बनाते हुए उद्योग के लिए लॉजिस्टिक लागत को कम करना इसका उद्देश्य है। 

Indian Railways has prepared a National Rail Plan for India 2030. The plan is to create a future-ready railways system by 2030 – bringing down logistic cost for industry is at the core of a strategy to enable Make in India: Finance Minister Nirmala Sitharaman#UnionBudget2021 pic.twitter.com/uswQjGjRHO

— ANI (@ANI) February 1, 2021
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में शोरगुल के बीच सोमवार को केंद्रीय बजट 2021-22 लोकसभा में पेश किया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सुबह सदन की कार्यवाही शुरू करते हुए जैसे ही श्रीमती सीतारमण  को वित्त वर्ष 2021-22 का आम बजट पेश करने के लिए पुकारा तो सदन में शोर शराबा आरंभ हो गया।  

इससे पहले केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सोमवार को आम बजट 2021 -22 को मंजूरी दे दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में संसद भवन परिसर में केंद्रीय  मंत्रिमंडल की बैठक आयोजित की गयी जिसमें वित्त वर्ष 2021-22 का अनुमोदन  किया गया। निर्मला सीतारमण ने केंद्रीय बजट मंत्रिमंडल के समक्ष रखा। इससे पहले उन्होंने वित्त वर्ष 2021-22 के आम बजट की एक डिजीटल प्रति राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को  सौंपी और राष्ट्रपति से आम बजट पेश करने की मंजूरी ली। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here