कोरोना के प्रकोप को दृष्टिगत रखते हुए श्री संजय चौधरी ips महानिदेशक (जेल एवं सुधारात्मक सेवायें) के आदेश पर माननीय जिला न्यायालय, इंदौर में 179 बन्दियों के आवेदन पत्रों में से दो दिन में 5 वर्ष तक सजा के 119 विचाराधीन बन्दियों की 45 दिन की अवधि की जमानत पर रिहा किया ।

आजीवन कारावास के 219 बन्दियों को 60 दिन की आपात पैरोल पर रिहा किया । अभी तीन दिनों में लगभग 300 बन्दी और रिहा किये जावेगें ।

रिहाई के समय बन्दियों की काउंसलिंग जेल अधीक्षक श्री राकेश भांगरे ने करते कहा कि “जिस तरह जेल में कोरोना का बचाव किया जा रहा है । इसी तरह घर में भी अपने परिजनों को कोरोना के बचाव की सीख दे।

जेल में निर्मित एक लाख रु के मास्क की बिक्री हुई-भदौरिया

लक्ष्मण भदौरिया उप जेल अधीक्षक ने बताया कि केंद्रीय जेल इंदौर में कोरोना से बचाव हेतु लगभग एक लाख मूल्य के सूती कपड़े से निर्मित मास्क की स्थानीय नगरनिगम, पुलिस स्टाफ, माननीय जिला न्यायालय सहित कई कार्यालयों में बिक्री की गई । समस्त बन्दियों और जेल स्टाफ को मास्क वितरित किये । साथ ही प्रतिदिन जेल को सेनेटाइज किया जा रहा है ।

जेल से रिहाई से पूर्व समस्त 338 बन्दियों का स्वास्थ्य परीक्षण कर मेडिकल जांच पर्ची दे कर रिहा किया ।

11 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here