प्रबंध समिति के मैनेजर ने संत रघुवीर नगर कालोनी में भी कम घपला नहीं किया

तत्काल रिसीवर नियुक्त कर कालेज के खातों का कैब से आडिट कराया जाय

मुख्य नगर संवाददाता

वाराणसी । श्री विश्वनाथ सनातन धर्म इण्टर कालेज की प्रबंध समिति के मैनेजर और उनके दो अन्य पदाधिकारियों की अनियमितता बताने की जरूरत नहीं। इस पर पहले भी लिखा जा चुका है।

शुक्रवार को “आपकी बात आपके साथ” कार्यक्रम में हुई वीडियो परिचर्चा में श्री काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास के मुख्य कार्यपालक अधिकारी विशाल सिंह के अलावा भारत बचाओ एकता मंच के महामंत्री अशोक पाण्डेय एडवोकेट ने जहाँ अपनी बात रखी, वहीं एसडीएम विनोद सिंह ने कालेज के मैनेजर की अध्यक्षता वाली संत रघुवर नगर कालोनी की जांच के प्रथम चरण की रिपोर्ट दी और कहा कि जो ले आउट देखा गया वो बिना किसी के हस्ताक्षर का है। 1970-71 के हाईकोर्ट से अनुमोदित ले आउट प्लान के आधार पर जांच को आगे बढ़ाया जाएगा।
यह कालोनी कोआपरेटिव सोसायटी से पंजीकृत है और इसके तहत एक परिवार सिर्फ एक प्लाट या फ्लैट का मालिक हो सकता है। मगर अध्यक्ष रहे कालेज के प्रबंधक महोदय के परिवार के पास होटल सहित आधा दर्जन के करीब फ्लैट्स और प्लाट हैं । कैसे संभव हो सका, यह करोड़ टके का सवाल है?

वीडियो के माध्यम से कालेज और कालोनी में हुई अनियमितता – फर्जीवाडे को लेकर प्रशासन का वेबसाइट ने ध्यान आकृष्ट कराया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here