हैदराबाद: दिल को दहला देने वाले हैदराबाद गैंगरेप एवं मर्डर केस को लेकर पूरे देश के लोगों में जबर्दस्त गुस्सा देखने को मिल रहा है। शहर के शमशाबाद इलाके की जिस सोसाइटी में पीड़िता रहती थी, वहां रहने वाले लोगों ने आज सोसाइटी के मेन गेट को लॉक कर दिया। इसके साथ ही लोगों ने गेट पर लिख दिया कि नेता, पुलिस और मीडिया को अंदर नहीं घुसने दिया जाएगा। लोगों ने कहा है कि उन्हें अब आश्वासन नहीं इंसाफ चाहिए। आपको बता दें कि इस घटना को लेकर देश के कई इलाकों में विरोध जताया गया है।

याचिका दायर कर रिमान्ड मांगेगी पुलिस

वहीं, मामले की जांच कर रही पुलिस ने रविवार को कहा कि वह चारों आरोपियों से आगे पूछताछ के लिए अदालत में याचिका दायर कर उनकी रिमान्ड की मांग करेगी। चारो आरोपियों को महिला से दुष्कर्म और उसकी हत्या करने के मामले में शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया था। गुस्साई भीड़ ने शनिवार को शादनगर पुलिस थाने का घेराव किया था, जहां आरोपियों को रखा गया था। भीड़ के उग्र रूप को देखते हुए थाने में ही कार्यकारी मजिस्ट्रेट ने आदेश जारी कर चारों आरोपियों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

पुलिस के काफिले पर हुई थी पत्थरबाजी

आरोपियों को हैदराबाद ले जा रही पुलिस के काफिले पर शनिवार को पत्थरबाजी भी हुई थी और भीड़ को नियंत्रण में लेने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग भी किया। पुलिस ने बताया कि सरकारी अस्पताल में काम करने वाली पशु चिकित्सक से बृहस्पतिवार रात शहर के बाहरी इलाके में चार लोगों ने दुष्कर्म किया था और उसकी हत्या कर दी थी। बाद में 28 नवंबर की सुबह में 26 वर्षीय इस महिला का झुलसा हुआ शव बरामद हुआ था। एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘आगे की जांच के लिए हम हिरासत याचिका दायर करने पर विचार कर रहे हैं।’

‘जबरन शराब पिलाने की कोशिश की थी’

अधिकारी ने बताया कि हिरासत में की जाने वाली पूछताछ की प्रक्रिया को जेल में भी किया जा सकता है। इसके अलावा अधिकारी ने उन खबरों के खारिज कर दिया, जिनमें यह कहा जा रहा था कि आरोपियों में से एक ने मर जाने के बाद भी महिला का उत्पीड़न किया था। अधिकारी ने बताया, ‘आरोपी ने पीड़िता को जबरन शराब पिलाने की भी कोशिश की थी लेकिन उसने ऐसा नहीं किया।’ जब अधिकारी से पूछा गया कि क्या लॉरी चालक को भी गिरफ्तार किया गया है तो उन्होंने इससे इनकार करते हुए कहा कि वह गवाह है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here