राज्य के 18 वें, परिवार के पहले मुख्यमंत्री बने उद्धव ठाकरे

इन चेहरों को मिली ठाकरे मंत्रिमंडल में जगह

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बृहस्पतिवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के दो-दो नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली।

मुंबई के शिवाजी पार्क में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। इस मौके पर तीनों दलों के वरिष्ठ नेता और हजारों कार्यकर्ता मौजूद थे। पहली बार ठाकरे परिवार का कोई सदस्य महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बना है।

उद्धव राज्य में शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन ‘महाराष्ट्र विकास अघाड़ी’ की सरकार का नेतृत्व करने जा रहे हैं।

शिवसेना से एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई ने भी शपथ ली। शिंदे और देसाई दोनों शिवसेना के वरिष्ठ नेता हैं।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के कोटे से पार्टी के दो वरिष्ठ नेताओं जयंत पाटिल और छगन भुजबल ने भी शपथ ग्रहण किया। पाटिल मराठा समुदाय तो भुजबल ओबीसी वर्ग से आते हैं।

कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट और कार्यकारी अध्यक्ष नितिन राउत को मंत्री पद की शपथ दिलाई गयी है। महाराष्ट्र कांग्रेस कोटे से शपथ लेने वाले थोराट मराठा समुदाय और तो राउत दलित समुदाय के चेहरा हैं।

माना जा रहा है कि अब बहुमत साबित करने के बाद उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल का विस्तार होगा। उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के 18वें मुख्यमंत्री बने और शिवसेना से मुख्यमंत्री बनने वाले वह तीसरे व्यक्ति हैं।

शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन सरकार का गठन विधानसभा चुनाव के परिणामों की घोषणा के 36 दिन बाद हुआ है। बता दें, विधानसभा चुनाव होने के बाद  किसी भी राजनीतिक दल के सरकार न बना पाने के कारण राज्य में 12 नवंबर से 23 नवंबर तक राष्ट्रपति शासन लागू रहा। उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को कोश्यारी से प्रोटेम स्पीकर नियुक्त करने और यह सुनिश्चित करने को कहा था कि सदन के सभी निर्वाचित सदस्यों को बुधवार शाम पांच बजे तक शपथ दिला दी जाए।

राकांपा नेता अजित पवार के समर्थन से 23 नवंबर को बनी भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार मंगलवार दोपहर को तब गिर गयी जब पवार ने उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। पवार के बाद देवेंद्र फडणवीस को भी मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा।

फडणवीस का इस्तीफा सोमवार को शिवसेना के नेतृत्व वाले गठबंधन द्वारा 162 विधायकों की परेड कराकर शक्तिप्रदर्शन करने के एक दिन बाद आया जिससे साफ हो गया था कि संख्याबल भाजपा के खिलाफ है।

महाराष्ट्र के इतिहास में अपना कार्यकाल पूरा करने वाले दूसरे मुख्यमंत्री बने फडणवीस के नाम एक और रिकॉर्ड जुड़ गया है। पिछले 59 साल में वे पहले मुख्यमंत्री हैं जिनकी सरकार महज चार दिन के लिए रही।

शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के ‘महाविकास अघाडी’ की सरकार उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में बन गई है, जो मौजूदा समय में राज्य विधानसभा के सदस्य नहीं है।

2 COMMENTS

  1. I would like to thank you for the efforts you’ve put in writing this website. I’m hoping the same high-grade site post from you in the upcoming as well. Actually your creative writing abilities has encouraged me to get my own web site now. Really the blogging is spreading its wings rapidly. Your write up is a great example of it.

  2. Hi, Neat post. There is a problem together with your web site in web explorer, could check thisK IE still is the marketplace chief and a huge component of other people will leave out your excellent writing because of this problem.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here