नई दिल्ली: सेंट्रल दिल्ली के फिल्मिस्तान इलाके में आग लगने की बड़ी घटना सामने आई है. हादसे में 43 लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली पुलिस ने इसकी पुष्टि की है। यह संख्या और भी बढ सकती है।

आग इलाके की अनाज मंडी में लगी है। 30 गाड़ियां आग पर काबू पाने में लगी हैं ,आग पर काबू तो पा लिया गया हैं लेकिन अभी भी कई लोग अंदर फंसे हुए हैं। अब तक 50 लोगों को बाहर निकाला गया है। गंभीर रूप से झुलसे लोगों को एलएऩजेपी, लेडी हार्डिंग और सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

फायर सर्विस के अधिकारी ने कहा कि 50 लोगों को पहले ही बाहर निकाल लिया गया था। लोगों की मौत दम घुटने से हुई है। उनका कहना है कि इलाके की गलियां बहुत सकरी हैं इसलिए ज्यादा गाड़ियां अंदर नहीं जा पा रही हैं। राहत और बचाव कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में आग लगने की ये सबसे बड़ी घटना है।

एक प्रत्यक्षदर्शी का कहना है फैक्ट्री में देर रात काम करने के बाद लोग सो रहे थे। कुछ देर बाद जब धुएं से उनका दम घुटने लगा तो उन्होंने खिड़की के पास जाकर मदद के लिए आवाज लगाई। आसपास के लोगों ने पुलिस और फायर सर्विस को इसकी जानकारी दी। उसने बताया कि यहां काम करने वाले मजदूर ज्यादातर दूर-दराज से आए हुए हैं।

जिस फैक्ट्री में आग लगी है, वो 600 गज में फैली है और वहाँ स्कूल बैग पैकेजिंग का काम होता है। पहले एक इमारत में आग लगी और देखते ही देखते  आग ने अगल बगल की दो और इमारतों को अपनी चपेट में ले लिया। ये फैक्ट्रियां बेहद भीड़भाड़ वाले और रिहायशी इलाके में चल रही थीं।

कुछ घायलों को इन दोनों अस्पतालों में भर्ती कराया गया है जहां डॉक्टरों की एक बड़ी टीम इलाज में जुटी है. चला कि जिस बिल्डिंग में आग लगी उसमें बाहर से ताला बंद था, जबकि अंदर से लोग बचाओ-बचाओ चिल्ला रहे थे. स्थानीय लोगों ने कई फंसे लोगों को बाहर निकाला और एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाने में मदद की.

पीड़ितों के परिजनों के मुताबिक फैक्ट्री में काम करने वाले ज्यादातर नौजवान थे जिनकी उम्र 20-30 साल रही होगी. फैक्ट्री का सिस्टम कुछ ऐसा बनाया गया था कि मजदूर वहीं काम करते थे और रहने-खाने-सोने की व्यवस्था भी वहीं थी. इसीलिए घटना के वक्त ज्यादातर मजदूर सोते रहे थे और उन्हें आग की जानकारी नहीं मिली.

1 COMMENT

  1. Hi, Neat post. There is an issue together with your site in web explorer, could test this?K IE nonetheless is the marketplace chief and a huge part of folks will omit your magnificent writing due to this problem.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here