बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत को उनके बेबाक बयानों के लिए जाना जाता है। अब उन्होंने ट्विटर के सीईओ जैक डोर्से के साल 2015 के एक ट्वीट को शेयर कर उन पर निशाना साधा है। दरअसल, कंगना रनौत ने अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ट्विटर अकाउंट को परमानेंट बैन करने पर रिएक्शन दिया है। 

जैक डोर्से ने अपने एक पुराने ट्वीट में कहा था कि ट्विटर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के साथ खड़ा है। इस पर रिएक्शन देते हुए कंगना ने ट्वीट किया, ”नहीं, आप ऐसा नहीं करते हैं। इस्लामवादी मुल्क और चीनी प्रोपेगेंडा ने आपको पूरी तरह खरीद लिया है। आप सिर्फ अपने फायदे के लिए स्टैंड लेते हैं। आप दूसरों के विचारों के प्रति बेशर्मी से असहिष्णुता दिखाते हैं। आप अपने लालच के प्रति एक गुलाम के सिवाय कुछ नहीं है। फिर से ऐसा प्रचार न करें। यह बहुत ही शर्मनाक है।”

इससे पहले कंगना रनौत ने महिलाओं पर अत्याचार करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी सजा तय करने की मांग की थी। एक्ट्रेस ने कहा कि भारत में भी सऊदी अरब की तरह सजा तय होनी चाहिए और महिलाओं का उत्पीड़न करने वाले लोगों को चौराहों पर लटका देना चाहिए। भोपाल में मीडिया से बात करते हुए एक्ट्रेस ने कहा कि बहुत से लोग हिम्मत ही नहीं कर पाते हैं कि वह अपने साथ हुए उत्पीड़न के बारे में बताएं।

कंगना रनौत ने कहा कि लोगों के चुप रहने की एक वजह हमारे दकियानूसी कानून भी हैं। सबसे बड़ी समस्या यह है कि हमारे यहां लंबे समय तक फाइलें चलती रहती हैं। पीड़ितों को सालों तक अपने साथ हुए उत्पीड़न के बारे में बताना पड़ता है। उन्होंने कहा कि जब तक हम सऊदी अरब जैसे कुछ उदाहरण पेश नहीं करेंगे, तब तक इस तरह की घटनाओं को रोका नहीं जा सकेगा। उन्होंने कहा कि हमें कम से कम 5 से 6 गैंगरेप के मामलों में इस तरह की सजा देनी चाहिए।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here