नगर संवाददाता

वाराणसी। समय : अपराह्न दो बजे। स्थान : कालभैरव मंदिर स्थित बल्लभ बालिका इंटर कॉलेज।

सामान्य दिनचर्या के बीच हंसते-मुस्कुराते लोग, कालभैरव मंदिर में श्रद्धालुओं का आना-जाना लगा हुआ था। ठेले पर सब्जीवाला जोर-जोर से आवाज़ देते हुए सब्जियां बेच रहा था। हाथों में अखबार लहराते हॉकर अखबार बेच रहा था। गर्ल्स कॉलेज में छात्राओं की चहल-पहल थी तभी आतंकवादी हमले में कई जगहों पर एक साथ बम धमाके हुए, सैकड़ों लोग घायल हो गए। हर तरफ कोहराम मच गया। 

घबराने की जरूरत नही। यह कोई सच्ची घटना नहीं है, बल्कि सिविल डिफेंस के स्थापना दिवस पर गुरुवार को आयोजित मॉक ड्रिल का दृश्य था।

कालभैरव मंदिर स्थित बल्लभ बालिका इंटर कॉलेज के मैदान में आयोजित मॉक ड्रिल में बताया गया कि किस तरह आतंकी व हवाई हमले के दौरान सिविल डिफेंस जल्द से जल्द प्राथमिक चिकित्सा उपलब्ध कराते हुए लोगों की जान बचाएगा।

मुख्य अतिथि सतीश कुमार पाल (अपर जिला मजिस्ट्रेट, वित्त एवं राजस्व) व विशिष्ट अतिथि नीरज मिश्रा (डिप्टी कंट्रोलर, नागरिक सुरक्षा), विनोद गुप्ता (चीफ वार्डन), डॉ. राम अवतार पांडेय, एडवोकेट की मौजूदगी में मॉक ड्रिल और मार्च पास्ट हुआ।

कार्यक्रम का शुभारंभ ध्वजारोहण के साथ ही कबूतरों और गुब्बारों को आसमान में उड़ाकर किया गया।  मॉक ड्रिल में नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों ने भूकंप, आतंकवादी हमले और हवाई हमले से बचाव का प्रदर्शन किया।

आग लगने पर बचाव, घायलों को रस्सी के स्ट्रेचर की सहायता से बाहर निकालने और प्राथमिक उपचारों के बारे में बताया गया। बताया गया कि पेट्रोल की आग को हमेशा रेत और लकड़ी की आग को पानी से बुझाना चाहिए।

बच्चों ने सरस्वती वंदना और देशभक्ति गीतों पर नृत्य प्रस्तुत किया। मार्च पास्ट में पीएसी, होम गार्ड्स, एनसीसी कैडेट्स के बैंड सहित विभिन्न संस्थाओं सहित स्कूलों और कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।

इस मौके पर कोतवाली प्रखंड के डिविजनल वार्डन कन्हैया लाल यादव एडवोकेट, डिप्टी डिविजनल वार्डन शैलेश कुमार सिंह, पोस्ट वार्डन राजेश गुप्ता, बल्लभ बालिका कॉलेज की शिक्षिका स्वाति त्रिपाठी, कनक लता, उषा तिवारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here